Shilajeet Ka Asar Kitni Der Tak Rehta Hai? शिलाजीत किसे नहीं लेना चाहिए और किस लेना चाहिए

24newsdekho.com
4 Min Read

Shilajeet Ka Asar Kitni Der Tak Rehta Hai? शिलाजीत का असर कितनी देर तक रहता है? इससे जानने से पहले जान लेते हैं की शिलाजीत होता क्या है? शिलाजीत एक चिपचिपा पदार्थ होता है जो की हिमालय की ऊंची चट्टानों में पाया जाता है। यह सदियों से पौधो के धीमे अपघटन से विकसित होता है। शिलाजीत का प्रयोग आम तौर पर आयुर्वेदिक चिकित्सा में किया जाता है। यह एक प्रभावी और सुरक्षित पूरक है जो आपके स्वस्थ के लिए बेहद लाभदायक है।

मार्केट में शिलाजीत के अलग अलग कैप्सूल आते हैं और अलग अलग तरह के शिलाजीत के पैक्ड आते हैं। जिसमे कंपनी शिलाजीत को पैक करके देती है। शिलजीत खाने से आपके शरीर की थकावट या फिर आलस सब कुछ खत्म हो जाता है।

Shilajeet Ka Asar Kitni Der Tak Rehta Hai?

Shilajeet Ka Asar Kitni Der Tak Rehta Hai

Shilajeet Ka Asar Kitni Der Tak Rehta Hai? अगर हम इसके असर के बारे में जाने तो, यह व्यक्ति के शरीर के आकार और उसके खाने को मात्र पर निर्भर करता है। आप तौर पर शिलाजीत के लाभ से के साथ बढ़ते हैं और उसका असर थोड़े समय में दिखने लगता है। हमने नीचे एक टेबल में व्यक्ति का वजन और उम्र के अनुसार शिलाजीत को लेने की मात्रा लिखी है।

Vyakti Ka Wajan (Kilogram)Vyakti Ki Umr (Varsh)Shilajeet Ki Matra (Milligram)
5030100
6040150
7050200
8060250
9070300
Vyakti Ka Wajan (Kilogram)Vyakti Ki Umr (Varsh)Capsule Ki Matra (Milligram)
5030200
6040250
7050300
8060350
9070400
Vyakti Ki Umr (Varsh)Capsule Ki Matra (Milligram)Asar Ka Samay (Ghante)
202004
302505
403006
503507
604008

Shilajeet Kitne Din Tak Khana Chahiye? (Capsules)

Shilajeet Ka Asar Kitni Der Tak Rehta Hai
Vyakti Ki Umr (Varsh)Shilajeet Ki Matra (Milligram)Din Mein Kitni BaarKitne Din Tak Khaye
20200130
30250145
40300160
50350175
60400190

Shilajeet Lene Ka Sabse Achha Samay Kya Hai?

Shilajeet Ka Asar Kitni Der Tak Rehta Hai

Shilajeet Lene Ka Sabse Achha Samay Kya Hai? शिलाजीत लेने का सबसे अच्छा समय क्या है? तो इसका समय आप पर निर्भर करता है, परंतु कई वेबसाइट से पता चलता है की शिलाजीत को आप सुबह के समय अगर खायेंगे तो ज्यादा असर करता है। आप सुबह खाना खाने के बाद आप शिलाजीत का सेवन करते हैं। तो आपको दिन भर थकावट और कमजोरी नही लगेगी। आप इसको सुबह के समय गुनगुने पानी या फिर दूध के साथ ले सकते हैं। एक छोटा चम्मच शिलाजीत पाउडर को एक ग्लास गुनगुने पानी या दूध में मिलाकर पिएं शुरुवात में आप छोटे चम्मच से पिएं और फिर आप अपने अनुसार इसकी धीरे धीरे मात्रा बड़ा सकते हैं।

Shilajeet Kise Nahi Lena Chahiye?

Shilajeet Kise Nahi Lena Chahiye? शिलाजीत किसे नहीं लेना चाहिए? इसके बारे में भी जान लेते हैं। शिलाजीत लेने से नुकसान यह होता है की शरीर का तापमान बड़ जाता है। गर्मी के कारण हांथ, पैर और पेट में भारीपन जैसा लगता है। तापमान संतुलित नही रहने के कारण आपको सिर दर्द जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

Read more: Coffee Peene Ke Labh Aur Nuksaan Kya hai? कम होता है वजन और कैसे पीना चाहिए?

Read more: IQOO Z9X 5G Price in India: खत्म हुआ इंतजार, 6000mAh की बैटरी के साथ आ गया

Read more: Meizu 21 Note लॉन्च की तारीख तय की गई, इस तारीख को होगा लॉन्च और लीक हुई स्पेक्स

Share This Article
1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *